बैराड़ तहसील के अंतर्गत आने वाले ग्राम नहरखेड़ा में हो रहा है प्रतिदिन लाखों के पत्थर का अवैध उत्खनन|

बैराड़ तहसील अवैध उत्खनन मैं काफी चर्चित रहा है लेकिन लेकिन यहां अवैध उत्खनन रुकने का नाम नहीं ले रहा है रेत और पत्थर का अवैध उत्खनन खुलेआम चल रहा है यहां दिनदहाड़े प्रतिदिन 40 से 50 ट्रैक्टर द्वारा रेत तथा पत्थर का अवैध उत्खनन किया जा रहा है बैराड़ से 3 किलोमीटर दूर सूरी के पास नहर खड़ा मार्ग पर एक पत्थर की खदान बना रखी है जिसमें पत्थर के खंभे बनाए जाते हैं एक खंबे की कीमत लगभग ₹200 हैं जबकि एक ट्रैक्टर में 100 खंबे भरे जाते है और दिन में लगभग 50 ट्रॉली यहां से प्रतिदिन निकलती है तो अंदाजा आप ही लगा लो कि यहां राजस्व को कितना नुकसान पहुंचाया जा रहा है

पत्रकार-गौरब शर्मा